।। श्री गणेशदत्तगुरुभ्यो नम: ।।

 

श्री की पालकी सेवा
(केवल श्री दत्तमंदिर स्थान पर)

 

  
‘श्री’ की 
पालकी सेवा

 

रू.१००१

                                                                                               भक्तों की इच्छा के अनुसार किसी एक उपलब्ध दिन और शुभ दिन के अवसर पर पालकी निकाली जाती है| श्री दत्तमंदिर को तीन फेरे लगाए जाते हैं| वाद्यों के ताल पर अभंग, पद, अष्टकों का गायन होता है| दिगंबरा--- दिगंबरा मंत्रका जयघोष किया जाता है|पूरा वातावरण मंगलमय होता है|

 

नंदादीप सेवा
( किसी एक स्थान पर )

 

नंदादिप  सेवा
(एक सप्ताह)

रू .१५०

किसी भी एक स्थान पर जलनेवाले  नंदादिप (बाती,तेल) के लिए सप्ताह
का लगभग खर्चा|

नंदादिप सेवा
(एक महीना)

रू. ५००

किसी भी एक स्थान पर जलनेवाले नंदा-दिप(बाती,तेल) के लिए महीने का लगभग खर्चा|

 

 

श्री गुरू द् वादशी से बैसाख पूर्णिमा तक हर महीने की पूर्णिमा को पालकी उत्सव संस्था की ओर से संपन्न होता है|

 

पालकी उत्सव शाम को आरती के बाद ७.१५से ९.०० बजे तक चलता है|

 

।। अवधूत चिंतन श्री गुरुदेव दत्त ।।